श्रीश्री बगलामुखी सर्वतन्त्रसाधना ज्योतिष

अंक शास्त्र

  • वर वधू के नामांक का फल

    वर वधू के नामांक का फल अंकशास्त्र के नियम के अनुसार अगर वर का नामांक 1 है और वधू का नामांक भी एक है तो दोनों में समान भावना एवं प्रतिस्पर्धा रहेगी जिससे पारिवारिक जीवन में कलह की स्थिति होगी. कन्या का नामांक 2 होने पर किसी कारण से दोनों के बीच तनाव की स्थिति बनी रहती है. वर 1 नामांक का हो और कन्या तीन नामांक की तो उत्तम रहता है दोनों के बीच प्रेम और परस्पर सहयोगात्मक सम्बन्ध रहता है. कन्या 4 नामंक की होने पर पति पत्नी के बीच अकारण विवाद होता रहता है और जिससे गृहस्थी ...

  • अंकशास्त्र से वर वधू का गुण मिलान

    अंकशास्त्र से वर वधू का गुण मिलान अंकशास्त्र में वर एवं वधू के वैवाहिक गुण मिलान के लिए, अंकशास्त्र के प्रमुख तीन अंकों में से नामांक ज्ञात किया जाता है. नामांक ज्ञात करने के लिए दोनों के नामों को अंग्रेजी के अलग अलग लिखा जाता है. नाम लिखने के बाद सभी अक्षरों के अंकों को जोड़ा जाता है जिससे नामांक ज्ञात होता है. ध्यान रखने योग्य तथ्य यह है कि अगर मूलक 9 से अधिक हो तो योग से प्राप्त संख्या को दो भागों में बांटकर पुन: योग किया जाता है. इस प्रकार जो अंक आता है वह नामांक होता ...

  • अंक ज्योतिष से ऐसे पता चलता है भाग्य और मूलांक

    अंक ज्योतिष से ऐसे पता चलता है भाग्य और मूलांक प्राणियों के कर्म और भाग्य ग्रहीय अंक 1 से 9 के द्वारा प्रभावित होते हैं। अंक गणना के आधार पर अपने व्यक्तिगत क्षमताओं संभावनाओं को समझा और संवारा जा सकता है। किसी भी माह की 1, 10, 19 और 28 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 1 होगा। इसी प्रकार, जन्मतिथि के दोनों अंकों का योग अथवा एक से नौ तिथियों में से कोई हो तो वह एक अंक ही व्यक्ति का मूलांक होता है। 10 से 31 तक किसी भी तारीख का मूलांक इस विधि से मालूम किया जाता है। इससे ...

  • सफलता पाने के लीये

    बहुत से लोगो को अपनी राशी पता नहीं होती हैं उन सभी के लिए केवल उनके भाग्यांक जन्म तारीख की संख्याओ का जोड़ 24-10-1970=2+4+1+1+9+70+=6 सफलता पाने का मंत्र यहाँ पर दिया जा रहा हैं | भाग्यांक 1 एक ही ब्रांड की वस्तुए ज्यादा से ज्यादा इस्तमाल करे तथा दुसरो की ज़रुरतो पर भी ध्यान दिया करे, नित्य किसी योग्य याचक को यथा संभव कुछ द्रव्य आदि दान किया करे | भाग्यांक 2 अपनी सोच को स्थिर रखे प्रतिदिन वस्त्र परिवर्तन किया करे तथा नित्य किन्ही दो बच्चो को दूध दान किया करे | भाग्यांक 3 केवल अपना लिखा ही व्यव्हार ...

  • अंक ज्योतिष कि सहायता से हमअपने भाग्यशाली रंग, दिन और रत्न भी जान सकते हैं।

    अंक भाग्यशाली रंग भाग्यशाली दिन भाग्यशाली रत्न 1 लाल, सुनहरा और नारंगी रविवार माणिक्य 2 सफेद, हल्के रंग सोमवार मोती 3 पीला,नारंगी गुरुवार पुखराज 4 हल्का भूरा रविवार गोमेद 5 हरा बुधवार पन्ना 6 क्रीम, हल्के रंग शुक्रवार हीरा 7 स्लेटी सोमवार लहसुनिया 8 गहरे रंग शनिवार नीलम ,कालाहकीक 9 लाल मंगलवार मूंगा ...

  • अंक ज्योतिष कि सहायता से हमअपने भाग्यशाली रंग, दिन और रत्न भी जान सकते हैं।

    अंक भाग्यशाली रंग भाग्यशाली दिन भाग्यशाली रत्न 1 लाल, सुनहरा और नारंगी रविवार माणिक्य 2 सफेद, हल्के रंग सोमवार मोती 3 पीला,नारंगी गुरुवार पुखराज 4 हल्का भूरा रविवार गोमेद 5 हरा बुधवार पन्ना 6 क्रीम, हल्के रंग शुक्रवार हीरा 7 स्लेटी सोमवार लहसुनिया 8 गहरे रंग शनिवार नीलम ,कालाहकीक 9 लाल मंगलवार मूंगा ...

  • अंक 9 का महत्व

    इस अंक का स्वामी मंगल है। अंक 9 वालों को खेल के क्षेत्र में या फिर पुलिस या सेना के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहिए। कोयले व धातुओं के व्यापार में भी इन्हें सफलता मिल सकती है। ...

  • अंक 8 का महत्व

    अंक 8 का उनका प्रतिनिधि ग्रह शनि है इसलिए इन्हें लोहे का व्यापार, तेल, तिल, ऊन का व्यापार, शारीरिक श्रम, राजनीति, प्रापर्टी ब्रोकर्स और मेकेनिकल इंजनियरिंग के क्षेत्र में सफलता मिलती है। ...

  • अंक 7 का महत्व

    इस अंक का प्रतिनिधि ग्रह केतु है। मूलांक 7 वाले लोगों को दवाई, सोना, ट्रेवल एजेंसी, अनुसंधान से जुड़े कार्य फायदा देते हैं ...

  • अंक 6 का महत्व

    जिनका मूलांक छ: होता है उनके लिए प्रतिनिधि ग्रह शुक्र है। शुक्र के कारण किराना, व्यापार, मिठाई आदि के व्यापार में इन्हें सफलता मिलती है। इसके अलावा ग्लैमर व डिजाइनिंग से जुड़े कार्य में भी इनका भविष्य उज्जवल रहता है। ...

  • अंक 5 का महत्व

    इस अंक वालों का प्रतिनिधि ग्रह बुध है इसलिए इस मूलांक वाले लोगों को लकड़ी, फर्नीचर का कार्य, आयुर्वेद, ज्योतिष, कम्प्यूटर पार्ट्स, पत्रकारिता और विज्ञान से जुड़े क्षेत्र में अपना करियर तलाशना चाहिए। ...

  • अंक 4 का महत्व

    मूलांक चार का प्रतिनिधि ग्रह राहु होने से इस मूलांक वालों को रेलवे, वायुयान सामग्री, तकनीकी कार्य, पुरातत्व, ज्योतिष, शेयर्स आदि क्षेत्रों में सफलता मिलने के योग बनते ...

  • अंक 3का महत्व

    सदियो पहले से मनुष्य अंको के महत्व को समझता आ रहा है. जब बच्चे का नामकरण किया जाता है तब उसके नाम का प्रभाव उसके व्यक्तित्व तथा चरित्र पर और जीवन में होने वाली घटनाओ पर स्पष्ट झलकता है. अंक 3 की विशेषताएँ अंक 3 का स्वामी ग्रह गुरु को माना गया है. आपके नाम के हिज्जो के कुल जोड़ का योग यदि 3 आता है तब आपका अंक 3 होगा. इस अंक को बाकी सभी अंको से सबसे ज्यादा भाग्यशाली अंक माना जाता है. ईश्वरीय कृपा बनी रहती है और जन्मजात ही आत्मविश्वास कूट्-कूटकर भरा होता है. आप जिस भी ...

  • अंक 2 का महत्व

    अंक शास्त्र में सभी अंकों का अपना - अपना महत्व माना गया है. आपके नाम की स्पैलिंग के सभी हिज्जो के जोड़ से अंत में जो अंक मिलता है वह आपका नामांक कहा जाता है. अंक दो के सकारात्मक पहलू | Positive Traits of Life Number 2 आपके नाम के हिज्जो के जोड़ का अंतिम अंक अगर दो आता है तब आपका नंबर दो बनेगा. अंक दो का प्रतिनिधित्व चंद्रमा करता है. आपके अंदर नेतृत्व की भावना का अभाव रह सकता है लेकिन आप समूह में काम करने वाले व्यक्ति होगें. अंक दो के प्रभाव से आप शांतिप्रिय व्यक्ति होगें, दूसरो को ...

  • 1 अंक सूर्य का सूचक

    अंक 1 'सूर्य' का प्रतीक है। यही मूल अंक माना गया है जिससे शेष सभी अंक बनते हैं। सभी अंकों का आधार एक ही है और जीवन का आधार भी एक है। यह अंक सृजनात्मक, वैयक्तिक और विधायक तत्वयुक्त का प्रतिनिधित्व करता है। जिस व्यक्ति का जन्म एक या उसकी श्रृंखला में होता है, वह स्त्री या पुरुष क्रियाशील, रचनात्मक, दृढ़ निश्चयी एवं व्यक्तित्व का धनी होता है। ऐसे व्यक्ति जो भी कार्य अपने हाथ में लेते हैं, उसे अंत तक निभाते हैं। × प्रायः आत्मकेंद्रित, अपने विचारों में दृढ़, हठी तथा दृढ़ निश्चय वाले होते हैं। उसकी यह दृढ़ता कभी-कभी ...

  • अंक ज्योतिष माहात्म्य

    अंक ज्योतिष से ऐसे पता चलता है भाग्य और मूलांक प्राणियों के कर्म और भाग्य ग्रहीय अंक 1 से 9 के द्वारा प्रभावित होते हैं। अंक गणना के आधार पर अपने व्यक्तिगत क्षमताओं संभावनाओं को समझा और संवारा जा सकता है। किसी भी माह की 1, 10, 19 और 28 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 1 होगा। इसी प्रकार, जन्मतिथि के दोनों अंकों का योग अथवा एक से नौ तिथियों में से कोई हो तो वह एक अंक ही व्यक्ति का मूलांक होता है। 10 से 31 तक किसी भी तारीख का मूलांक इस विधि से मालूम किया जाता है। इससे ...

  • 1 अंक ओर महात्म्य

    अंक शास्त्र में अंग्रेजी के सभी अक्षरो को एक अंक प्रदान किया गया है. इस प्रकार अंक एक के अधिकार में अग्रेजी के तीन अक्षर A,J और S आते हैं. अंक एक को परम शक्तिशाली सूर्य का अंक माना गया है. इस अंक के प्रभावस्वरुप आपके अंदर नेतृत्व की भावना कूट्-कूट कर भरी होगी. आप हर काम का बीड़ा खुद ही उठाने को तैयार रहेगें. आप अत्यधिक साहसी, वीर, पराक्रमी तथा उद्यमी व्यक्ति होते हैं. इस अंक पर सूर्य का अधिकार होने से आप अति तेजस्वी होने के साथ जिद्दी और अपनी धुन के पक्के व्यक्ति भी होते हैं. ...

Pay By

You can pay online using Paytm and PayUMoney.

Paytm Payment 93282 11011

  Paytm Payment   PayUmoney